अस्थमा, अस्थमा के लक्षण और अस्थमा को ठीक करने के घरेलू उपाए .

अस्थमा, अस्थमा के लक्षण और अस्थमा को ठीक करने के घरेलू उपाए .
अस्थमा, अस्थमा के लक्षण और अस्थमा को ठीक करने के घरेलू उपाए .
अस्थमा :- अस्थमा की बीमारी आज के समय में काफी लोगों को परेशान कर रही है . ऐसा इसलिए हो रहा है क्योंकि आज के समय में लोग अपने घर के पौष्टिकता से भरे हुए खाने को छोड़कर बाहर की तली भुनी चीजों को ज्यादा खा रहे हैं . जिस वजह से उन लोगों का वजन बढ़ने लगता है और वजन बढ़ने की वजह से ही लोगों को अस्थमा जैसी बीमारी से जूझना पड़ता है .
अस्थमा की बीमारी बरसात के मौसम में ज्यादा होती है जिस वजह से अस्थमा के रोगी को ज्यादा समस्या का सामना करना पड़ता है . अस्थमा की बीमारी में मरीज को कफ के कारण सांस लेने में बहुत ज्यादा प्रॉब्लम होती है . हवा के दबाव से सांस लेने वाली नली सिकुड़ने लगती है जिस वजह से मरीज को छींके आना चालू हो जाती है और फिर उसी वजह से मरीज को खांसी, जुकाम भी हो जाता है . अस्थमा की बीमारी में मरीज सांस लेने में परेशानी की वजह से सांस को ज्यादा देर तक खींचता है और इसी वजह से यह बीमारी और ज्यादा बढ़ती जाती है .

अस्थमा के अन्य कारण-causes of Asthma

1.अगर कोई व्यक्ति ज्यादा धूम्रपान या शराब का सेवन करता है तो उस व्यक्ति को अस्थमा की बीमारी हो सकती है क्योंकि धूम्रपान करने की वजह से फेफड़े खराब होने लगते हैं जिस वजह से सांस लेने में बहुत ज्यादा परेशानी होती है .
2.कभी-कभी व्यक्ति को ज्यादा तनाव या ज्यादा सोचने की वजह से भी अस्थमा की बीमारी हो जाती है .


3.महिलाओं के अंदर अस्थमा कई बार हार्मोन चेंज इसकी वजह से भी हो सकता है
4.अस्थमा की बीमारी के बाद पीढ़ी दर पीढ़ी चलती है .

अस्थमा के लक्षण-Symptoms of Asthma

अस्थमा की बीमारी कुछ मरीजों को एलर्जी के कारण भी हो जाती है . अस्थमा की बीमारी है रॉकी जोरो से खास ने तथा सही से सांस न लेने पर बहुत ज्यादा परेशान हो जाता है . जोरो से खास ने तथा ज्यादा सांस खींचने की वजह से अस्थमा के मरीज का मुंह एकदम लाल हो जाता है तथा आंखों से आंसू आने लगते हैं और उस व्यक्ति का सारा शरीर पसीने में भीग जाता है . यह समय की बीमारी के लक्षण है .

अस्थमा के अन्य लक्षण-Other symptoms of Asthma

1.जब किसी व्यक्ति को अस्थमा होता है तो उस व्यक्ति को सबसे पहले उसके सीने में जकड़न महसूस होती है जिस वजह से वह व्यक्ति खुल कर सांस नहीं ले पाता है .
2.अस्थमा में रात को सोते समय या सुबह के समय हालत कुछ ज्यादा गंभीर हो जाती है क्योंकि उस समय आप सीधे ही लेटे होते हैं और खुलकर नहीं आ पाती है .


3.अस्थमा की बीमारी में लोगों को कई बार उल्टियां भी आने लगती हैं जिस वजह से वह व्यक्ति अपने शरीर के अंदर कमजोरी महसूस करता है .
4.अस्थमा का मरीज जब किसी दूसरे व्यक्ति से बात करता है तो उस व्यक्ति को सीने में घरघराहट की आवाज सुनाई देती है .
5.ठंडी हवा में सांस लेने में बहुत ज्यादा परेशानी होती है क्योंकि ठंडी हवा सांस लेने की नली को एकदम सुखा देती है जिस वजह से अस्थमा की समस्या और ज्यादा उत्पन्न हो जाती है .
6.अस्थमा की परेशानी में सिर भारी भारी लगता है तथा कई बार काफी तेज चक्कर भी आते हैं .
7.अस्थमा के रोगी को शरीर के अंदर बेचैनी का सामना करना पड़ता है .

अस्थमा की बीमारी को रोकने के घरेलू उपाय-best Home made solution to stop Asthma 

1.अस्थमा की बीमारी से छुटकारा पाने के लिए अगर कोई व्यक्ति अदरक के 5 ग्राम रस को एक चम्मच शहद में मिलाकर चाट सा है तो उस व्यक्ति की अस्थमा की बीमारी जल्दी ठीक हो जाती है .
2.अस्थमा की बीमारी से छुटकारा पाने के लिए 10 ग्राम नींबू का रस, 5 ग्राम अदरक का रस दोनों को आपस में अच्छी तरह से मिलाकर हल्के गर्म पानी के साथ पीने से अस्थमा के रोग में काफी आराम मिलता है .
3.अस्थमा की बीमारी से छुटकारा पाने के लिए 10 ग्राम लहसुन के रस को गुनगुने पानी के साथ लेने से अस्थमा का रोग काफी कम हो जाता है तथा व्यक्ति को सांस लेने में भी कोई दिक्कत नहीं होती है .
4.अस्थमा की बीमारी से छुटकारा पाने के लिए अनार के दानों को सुखाकर उन्हें अच्छी तरह से कूट पीसकर उनका चूर्ण बना लें . दिन में दो बार तीन 3 ग्राम चूर्ण को शहद के साथ मिलाकर खाने से अस्थमा की बीमारी में बहुत ज्यादा फायदा मिलता है . सांस लेने की दिक्कत भी खत्म हो जाती है .
5.अगर किसी अस्थमा के मरीज को सांस लेने में बहुत ज्यादा परेशानी हो रही है तो उसे एक कप कॉफी अपनी लेनी चाहिए इससे सांस लेने में प्रॉब्लम नहीं आएगी .


6.अपने अस्थमा के रोग को कम करने के लिए दो या तीन लोगों को 150 ग्राम पानी में उबालकर पानी को थोड़ा थोड़ा पीने से अस्थमा की बीमारी में ज्यादा फायदा मिलता है तथा उस व्यक्ति की ज्यादा सांस खींचने की दिक्कत खत्म हो जाती है .
7.अस्थमा की बीमारी से छुटकारा पाने के लिए रोगी को हर रोज दूध पीना चाहिए . दूध से ज्यादा कफ की परेशानी को रोकने के लिए दूध को बोलते समय उसमें दो पीपल डालें और फिर उस दूध को छानकर उसमें मिश्री मिलाकर पी लें . ऐसा करने से अस्थमा की बीमारी धीरे-धीरे कम होने लगेगी तथा सांस लेने की दिक्कत भी खत्म हो जाएगी .

8.अगर कोई व्यक्ति अपने अस्थमा की बीमारी से छुटकारा पाना चाहता है तो उस व्यक्ति को सोंठ, सेंधा नमक, जीरा, भुनी हुई हींग और तुलसी के पत्तों सभी चीजों को बराबर मात्रा में लेना है और उन्हें अच्छी तरह से कूट पीसकर उनका चूर्ण बना लेना है . इस चूर्ण में से 10 ग्राम चूर्ण को कम से कम 300 ग्राम पानी के अंदर उबालना है और जब पानी एक तिहाई रह जाए तो उस काढ़े को पीने से अस्थमा की बीमारी में बहुत ज्यादा लाभ मिलता है .
9.अपनी अस्थमा की बीमारी से छुटकारा पाने के लिए हल्दी को पीसकर उसे तवे पर bhunkar एक शीशी में बंद करके रख दें .अब उस हर रोज 5 ग्राम हल्दी को गुनगुने पानी के साथ ले . इसे लेने से अस्थमा की बीमारी जल्दी खत्म हो जाती है और बार बार सांस लेने की परेशानी भी दूर होती है .
10.ईसबगोल की भूसी 5 ग्राम हर रोज नियमित रूप से गुनगुने पानी के साथ लेने से कब्ज की प्रॉब्लम खत्म हो जाएगी तथा साथ ही दमे की परेशानी में भी आराम मिलेगा .
11.अपनी कब्ज की बीमारी से छुटकारा पाने के लिए अंजीर के 4 दाने रात को सोते समय पानी के अंदर डालें और सुबह होते ही उन दोनों को हल्का सा मसलकर पानी पीने से अस्थमा की बीमारी में बहुत ज्यादा लाभ मिलता है . इससे कब्ज की बीमारी भी ठीक हो जाती है .
Previous
Next Post »