डायबिटीज को जड़ से खत्म करने के लिए दमदार 16 तरीके .

डायबिटीज को जड़ से खत्म करने के लिए दमदार 16 तरीके .
डायबिटीज को जड़ से खत्म करने के लिए दमदार 16 तरीके .

डायबिटीज होने का कारण

जब पेट में अग्नाशय ग्रंथि खराब हो जाती है तो शरीर के अन्दर इन्सुलिन के मात्रा कम होने लगती है तब शरीर के अन्दर कार्बोहाइड्रेट का सही से पाचन नहीं हो पाता है . इसी वजह से शरीर के अन्दर ग्लूकोज़ का पाचन नहीं हो पाता है और वह सीधा खून में मिलने लग जाती है या पेशाब के साथ बाहर निकलने लगती है . उसी ग्लूकोज़ के बाहर निकलने की बीमारी को ही डायबिटीज कहते है . शरीर में से ग्लूकोज़ निकलने की वजह से शरीर धीरे धीरे कमजोर होने लगता है . डायबिटीज की बीमारी ज्यादातर मोठे लोगो को होती है क्यूंकि उनके शरीर में ग्लूकोज़ ज्यादा मात्रा में बनती है .

डायबिटीज के लक्षण 

ज्यादा पेशाब आना और ज्यादा प्यास लगना 

डायबिटीज के रोगी को ज्यादा मात्रा पेशाब आता है और उसे ज्यादा मात्रा में प्यास लगने लगती है क्यूंकि उसके शरीर से ग्लूकोज की मात्रा कम होने लगती है जिसे वजह से उसे ज्यादा मात्रा में प्यास लगने लगती है .  

ज्यादा भूख लगना 

डायबिटीज के मरीज को ज्यादा मात्रा में भूख लगने लगती है क्यूंकि डायबिटीज के मरीज के शरीर में इन्सुलिन की मात्रा बहुत कम हो जाती है या फिर खत्म हो जाती है जिस वजह से शरीर ऊर्जा मांगने लगता है और तभी ज्यादा खाना खाने की इच्छा करने लगती है इसलिए डायबिटीज के मरीजों को ज्यादा मात्रा में भूख लगने लगती है . 

तेजी से वजन घटना 

डायबिटीज की बीमारी में लोगो का वजन तेजी से घटने लग जाता है क्यूंकि शरीर के अन्दर इन्सुलिन की मात्रा बहुत कम हो जाती है और शरीर में ऊर्जा बनना बंद हो जाती है तथा शरीर की मासपेशियां भी कमजोर होने लगती है जिससे व्यक्ति का वजन तेजी से घटने लगता है . 

ज्यादा थकान महसूस होना 

डायबिटीज के मरीज के शरीर में इन्सुलिन सही से काम करना बंद कर देता है जिस वजह से शरीर के अन्दर ग्लूकोज बनना बंद हो जाता है और शरीर को ऊर्जा मिलनी बंद हो जाती है इसी वजह से डायबिटीज के मरीजों को ज्यादा थकन महसूस होने लगती है और वह थोड़ा सा काम करते है बहुत ज्यादा थक जाता है . 

चिड़चिड़ापन

डायबिटीज के मरीजों में अक्सर चिड़चिड़ापन देखने को मिलता है क्यूंकि वह अपनी इस बीमारी से परेशान हो जाते है तथा उन्हें बहुत जल्दी जल्दी पेशाब के लिए जाना पड़ता है जिस वजह से वह लोग चिड़चिड़े हो जाते है . 


आँखों की रौशनी कमजोर होना 
डायबिटीज के मरीजों के आँखों की रौशनी कमजोर होने लगती है क्यूंकि वह लोग शारीरिक रूप से बहुत ज्यादा कमजोर हो जाते है और उन लोगो के शरीर में ज्यादातर मासपेशियां काम करना बंद कर देती है जिससे अंधापन आने लगता है . 

चोट का ठीक ना होना 

अगर कोई डायबिटीज के मरीज के चोट लग जाये तो वह चोट आसानी से ठीक नहीं होती है क्यूंकि उस मरीज के शरीर में ग्लूकोज की मात्रा बड़ी हुई होती है जिस वजह से चोट आसानी से ठीक नहीं हो पाती है . 

अधिक त्वचा संक्रमण

जब शरीर के अन्दर ग्लूकोज की मात्रा नियंत्रण में रहती है तब त्वचा एक दम सही रहती है और उसमे कोई संक्रमण नहीं होता है लेकिन एक डायबिटीज मरीज के शरीर में इन्सुलिन की मात्रा बहुत कम और ग्लूकोज की मात्रा बढ़ जाने से त्वचा का संक्रमण बढ़ जाता है तथा डायबिटीज वाली महिलाओं को मूत्राशय और योनि संक्रमण से ठीक होने में विशेष रूप से मुश्किल लगती है।

त्वचा में खुजली

डायबिटीज के मरीजों के त्वचा में ज्यादा खुजली रहने लगती है क्यूंकि शरीर के अन्दर ग्लूकोज की मात्रा बढ़ जाती है जो शरीर में खुजली पैदा करती है . 

मसूड़ों की सूजन या मसूड़ों का चिसना 

डायबिटीज के मरीजों के अक्सर मसूड़ों से खून आने लगता है उनके मसूड़ों में सूजन आ जाती है और उन लोगो के मसूड़े चिसने लगते है जिस वजह से डायबिटीज वाले मरीज और भी ज्यादा चिड़चिड़े हो जाते है . 

शारीरिक कमजोरी और नपुंसकता 

डायबिटीज के मरीजों के शरीर में बहुत ज्यादा शारीरिक कमजोरी आने लगती है और उन्हें नपुंसकता का एहसास होने लगता है . ऐसा इसलिए होता है क्यूंकि डायबिटीज वाले मरीजों के शरीर में ऊर्जा का निर्माण होना बंद हो जाता है जिस वजह से उन्हें शारीरिक कमजोरी का एहसास होने लगता है . 

लिवर खराब 

जिन लोगो को डायबिटीज की बीमारी होती है उन लोगो का धीरे धीरे लिवर भी खराब होने लगता है जिस वजह से वह लोग शारीरिक रूप से कमजोर होने लगते है . 

डायबिटीज को खत्म करने का घरेलू इलाज 

1.घी और मक्खन जैसी चीजे बन्द करें 

डायबिटीज की बीमारी में मरीज को किसी भी तरह कि शुगर वाली चीजों का सेवन बंद कर देना चाहिए . और जब भी आप खाना खाये तो खाने के अन्दर कुछ ऐसा जरूर होना चाहिए जिसमे कार्बोहाइड्रेट की मात्रा ज्यादा हो . डायबिटीज के मरीज के लिए घी और मक्खन जहर साबित हो सकती है इसलिए इन चीजों का सेवन तुरंत बन्द कर देना चाहिए . 

2.सदाबाहर फुल 

डायबिटीज की बीमारी से छुटकारा पाने के लिए आपको हर रोज सुबह खाली पेट सदाबाहर फुल के 5 ताजे कोमल पत्तो का सेवन करना चाहिए इससे डायबिटीज कम होती है . 

3.हल्दी और शहद 

हर रोज सुबह के समय आंवले का रस 10 ग्राम, 1 ग्राम हल्दी तथा 3 ग्राम शहद लेकर तीनो को अच्छी तरह से मिलाये और जब वेब मिश्रण अच्छी तरह तैयार हो जाये तब उसे चाट लें . ऐसा करने से भी डायबिटीज कम होती है . 

4.करेले का जूस 

डायबिटीज के मरीजों को हर रोज कम से कम 15 ग्राम करेले का जूस पीने से डायबिटीज कम होती है और बहुत जल्दी डायबिटीज की बीमारी से छुटकारा मिलता है . 

5.जामुन और जामुन की गुठलियां

डायबिटीज की बीमारी में सबसे ज्यादा कारगर जामुन और जामुन की गुठलियां होती है . जामुन की गुठलियों को सुखाकर उन्हें अच्छी तरह से पीस लें और उस चूर्ण को 3 ग्राम दिन में तीन बार ताजे पानी के साथ उस चूर्ण को लें . डायबिटीज की बीमारी धीरे धीरे खत्म होने लगेगी . 
6.करेला का चूर्ण
अपनी डायबिटीज की बीमारी से हमेशा छुटकारा पाने के लिए आपको 100 ग्राम जामुन की गुठली और 100 ग्राम करेला का चूर्ण लेना है और दोनों को आपस में मिला लेना है अब उस चूर्ण को दिन में दो बार 3 ग्राम ताजे पानी से लेना है . इससे डायबिटीज की बीमारी बहुत ही जल्दी खत्म होती है . 

7.मेथी चूर्ण 

डायबिटीज की बीमारी में हर रोज खाना खाने से आधा घंटा पहले मेथी का 3 ग्राम चूर्ण पानी के साथ लेने से डायबिटीज की बीमारी में बहुत आराम मिलता है . 

8.चने और जौ

डायबिटीज को खत्म करने के लिए आप चने और जौ के आटे से बनी रोटी खा सकते है . इससे आपकी पाचन क्रिया भी सही रहेगी और डायबिटीज भी कम होगी . 

9.निम्बू पानी 

डायबिटीज की बीमारी में अगर किसी व्यक्ति को तेज प्यास लगे तो उस व्यक्ति को पानी के अन्दर थोड़ा सा निम्बू का रस मिलाकर पीना चाहिए . पानी के अन्दर निम्बू का रस मिलकर पीने से आपका पेट भी ठीक रहेगा और आपकी डायबिटीज भी कम होगी . 

10.घूमने के लिए जाये  

हर रोज सुबह के समय कम से कम 20 मिनट घूमने के लिए जरूर जाये ताकि आपका शरीर फिट और स्वस्थ रह सके और आपके शरीर को डायबिटीज की बीमारी को खत्म करने के लिए क्षमता मिल सके .  


11.टेंशन 

डायबिटीज की बीमारी में सबसे ज्यादा जरुरी बात किसी भी बात के बारे में ज्यादा ना सोचे क्यूंकि अगर आप किसी बात की ज्यादा टेंशन लेते है तो इससे आपके शरीर की प्रतिरोध क्षमता कमजोर होने लग जाएगी और आपके शरीर का शुगर लेवल बढ़ सकता है . 

12.मेथी दाना और सौंफ 

जो लोग अपनी डायबिटीज की बीमारी से ज्यादा परेशान है उन लोगो को रात को दो चम्मच मेथी दाना और दो चम्मच सौंफ को 200 ग्राम पानी में किसी कांच की शीशी में भिगो कर रख दें और सुबह खाली पेट उस पानी को छानकर पी लें . इस पानी को पीने से डायबिटीज की बीमारी में बहुत ज्यादा आराम मिलता है . 

13.जामुन के पत्ते 

अपनी डायबिटीज की बीमारी को जड़ से खत्म करने के लिए आपको जामुन के 4 हरे और मुलायम पत्तो को लेना है और उन पत्तो को बहुत बारीक 60 ग्राम पानी में पीसकर और उस पानी को छानकर पी लेना है . यह आपको लगातार 10 दिन तक करना होगा और हर दो महीने में 10 दिन लगातार करने से आपकी डायबिटीज की बीमारी जड़ से खत्म हो जाएगी . 

14.अवॉयड जंक फ़ूड 

डायबिटीज की बीमारी सबसे ज्यादा बाहर का खाना खाने से बढ़ती है . इसलिए डायबिटीज को बीमारी को जड़ से खत्म करने और रोकने के लिए आपको सबसे पहले बाहर का जंक फ़ूड खाना बन्द करना होगा . 

15.आम के पत्ते 

डायबिटीज की बीमारी को जड़ से खत्म करने के लिए आपको कम से कम 100 ग्राम ताजे आम के पत्ते लेने है और उन पत्तो को सुखाकर उन्हें बारीक पीस लेना है अब उस चूर्ण दिन में दो बार 3-3 ग्राम ताजे पानी से लें . लगातार एक महीने तक इसे लें और अपनी डायबिटीज को चेक करवाए आपकी डायबिटीज 100% कम हो जाएगी . 

16.मखाने 

डायबिटीज के मरीजों को हर रोज सुबह के समय खाली पेट कम से कम 4 मखाने जरूर खाने चाहिए . मखाने खाने से डायबिटीज की बीमारी से छुटकारा पाने में काफी मदद मिलती है और साथ ही पेट की समस्या भी ठीक हो जाती है . 

Previous
Next Post »