सर्वाइकल के दर्द से छुटकारा पाने के बेहतरीन घरेलू उपचार

सर्वाइकल के दर्द से छुटकारा पाने के बेहतरीन घरेलू उपचार
सर्वाइकल के दर्द से छुटकारा पाने के बेहतरीन घरेलू उपचार

सर्वाइकल क्या होता है?:- सर्वाइकल का मतलब साधारण भाषा में गर्दन से जुड़ी रीड की हड्डी होती है जो हमारे दिमाग को संदेश भेजती है जिस वजह से हमारे शरीर के सभी अंग नियंत्रित होते हैं . सर्वाइकल मजबूत और लचीली होती है जो गर्दन को सभी दिशाओं में घूमने की अनुमति देती है जिस वजह से हम अपनी गर्दन को left-right, up-down कर सकते हैं . गर्दन साथ छोटी हड्डियों से मिलकर बनी एक श्रंखला होती है जो मुंह और सिर से से जुड़ती है .  लातिन भाषा में गर्दन से सम्बंधित चीज़ों के लिए "सर्विकल" शब्द इस्तेमाल किया जाता है।

सर्वाइकल का दर्द क्या होता है:-  सर्वाइकल के दर्द का मतलब साधारण भाषा में गर्दन मे दर्द होता है . सर्वाइकल के दर्द में गर्दन के पिछले हिस्से में और गर्दन की मांसपेशियों में खिंचाव की वजह से गर्दन में दर्द रहने लगता है जिसकी वजह से व्यक्ति के शरीर के अन्य अंगों में भी समस्याएं उत्पन्न होने लगती हैं .
आज की भागदौड़ भरी जिंदगी में सर्वाइकल का दर्द या गर्दन का दर्द किसी भी महिला, पुरुष और बच्चे को हो सकता है . आज की lifestyle में ज्यादातर लोग घर से लेकर office में और सुबह से लेकर शाम तक अपनी chairs पर बैठे रहते हैं . एक छोटी सी आदत आपको कई बार के गंभीर बीमारियों से बुलावा दे सकती है .
सर्वाइकल का दर्द या ने गर्दन में दर्द और कमर में दर्द होना आजकल के समय में एक आम समस्या बन गई है . कुछ लोगों को सर्वाइकल के दर्द की वजह से सिर में दर्द, चक्कर आना और हाथ में सुन्नपन महसूस होना जैसी परेशानी आती है . गर्दन दर्द की समस्या कुछ दिनों में ठीक हो जाती है लेकिन अगर किसी व्यक्ति को सर्वाइकल की समस्या है तो के इलाज में थोड़ा ज्यादा समय लग सकता है . सर्वाइकल के दर्द का इलाज अगर समय रहते ना किया जाए तो यह परेशानी आगे चलकर काफी ज्यादा बढ़ सकती है जिस वजह से आपको कई और समस्याओं से जूझना पड़ सकता है . ऐसा होने पर अगर आप किसी भी तरह की दवाई लेते हैं तो आप पहले अपने डॉक्टर की सलाह जरूर ले ले .
गर्दन में दर्द की समस्या के होने के कारणों में गर्दन की नसों में खिंचाव होना, सर्वाइकल में मनको का हिलना या नसों का अकड़ जाना मुख्य कारण होता है .

सर्वाइकल का दर्द होने के कारण

1. गलत पोजीशन में सोने सोने से
2. अगर कोई व्यक्ति गलत पोजीशन में सोता है तो उस व्यक्ति को सर्वाइकल के दर्द की समस्या हो सकती है .
3. कई बार ज्यादा वजन अपने सिर पर उठाने से सर्वाइकल का दर्द हो जाता है .
4. गर्दन को अगर एक ही पोजीशन में झुकाए रखते हैं तो भी सर्वाइकल का दर्द हो जाता है .
5. ऊंचे और बड़े तकिए को अपने सर के नीचे लगाकर सोने से भी इस दर्द का सामना करना पड़ सकता है .
6. गलत उठने, बैठने और सोने के तरीकों से भी सर्वाइकल का दर्द शुरू हो सकता है .
7. सर्वाइकल के दर्द में गर्दन का ठीक से ना mudna, नसों में खिंचाव का आ जाना, और गर्दन में अकड़न जैसे लक्षण हमारे सामने आ जाते हैं .

सर्वाइकल दर्द के लक्षण

1. सिर के पीछे दर्द का होना
2. गर्दन घुमाने पर pisne की आवाज आना
3. चक्कर आना
4. कंधे में जकड़न
5. हाथ सुन हो जाना
6. गर्दन में सूजन
7. बुखार आना
8. थकान होना
9. भूख ना लगना
यह सभी सर्वाइकल दर्द के लक्षण होते हैं .

अगर आपको सर्वाइकल दर्द हो रहा है तो ऐसे में क्या करें .

1. कुर्सी पर बैठते हुए गर्दन को सीधा रखने की कोशिश करें .
2. गाड़ी चलाते समय पीठ को सीधा रखें .
3. नरम और कम ऊंचाई वाले तकिए पर सोए .
4. भोजन में विटामिन डी और कैल्शियम भरपूर मात्रा में लें . इसके अलावा साथ धूम्रपान बिल्कुल ना करें .
5. चाय और कैफीन का सेवन बिलकुल बंद कर दे . क्योंकि इसकी वजह से दर्द काफी हद तक बढ़ जाता है .
6. गर्दन झुका कर ना बैठे
7. लेट कर टीवी ना देखें
7. लगातार कंप्यूटर पर ना बैठे

सर्वाइकल दर्द को दूर करने के लिए घरेलू उपचार

1. हल्दी

हल्दी एक natural pain killer है . यह सूजन को भी कम करती है और ब्लड सरकुलेशन को भी नियंत्रित करती है . इसलिए इसके सेवन से दर्द में राहत मिलती है साथ ही गर्दन की अकड़न भी कम होती है . अगर आपको सर्वाइकल का दर्द है तो एक गिलास दूध में आधा चम्मच हल्दी डालकर उसे उबालें और उसे ठंडा कर लें ठंडा करने के बाद उसमें एक चम्मच शहद मिलाएं और इस दूध का  दिन में तीन बार इसका सेवन करें . ऐसा करने से सर्वाइकल के दर्द में बहुत ही ज्यादा आराम मिलता है .

2. तिल का तेल

तिल मैं कैल्शियम, मैग्नीशियम, फास्फोरस, कॉपर, जिंक और विटामिन डी के साथ और भी कई ऐसे जरूरी पोषक तत्व होते हैं जो की हड्डियों के लिए बहुत ही ज्यादा फायदेमंद होते हैं . सर्वाइकल के दर्द से छुटकारा पाने के लिए तिल के तेल को हल्का सा गुनगुना करके रोज अपनी गर्दन की मालिश करें . तिल का तेल का सेवन करने से भी यह इस दर्द को कम करने में बहुत ही ज्यादा फायदेमंद होता है .

3. सरसों का तेल या अरंडी का तेल

सरसों का तेल या अरंडी के तेल में तीन से चार लहसुन की कलियों को काटकर भून लें. भूनने के बाद इस तेल से लहसुन को बाहर निकाल कर इस लहसुन को खा सकते हैं साथ ही लहसुन के साथ इस दिल से दर्द वाली जगह पर मालिश  करने से भी सर्वाइकल के दर्द में राहत मिलती है .

4. लहसुन

सुबह खाली पेट लहसुन की दो कलियां गुनगुने पानी के साथ लेने से भी सर्वाइकल के दर्द से छुटकारा मिल जाएगा .

5. सिकाई  

सर्वाइकल के दर्द में कई बार सूजन भी आ सकती है इसलिए आधे लीटर पानी को गर्म करके एक बोतल में भर ले और उस पानी में तौलिए को भीगा कर तोलिए से दर्द वाली जगह पर सिकाई करने से सर्वाइकल का दर्द और सूजन दोनों ही खत्म हो जाते हैं .

6. व्यायाम

सर्वाइकल के दर्द से छुटकारा पाने के लिए  वैराम बहुत ही ज्यादा अच्छा उपाय है इसलिए आप गर्दन के व्यायाम के लिए किसी फिजियोथैरेपिस्ट से जरूर चला ले .

7. लौंग का तेल

सरसों के तेल के सात लौंग के तेल को मिलाकर अगर आप दर्द वाली जगह पर मालिश करते हैं तो इससे यह दर्द एकदम खत्म हो जाता है इसी के साथ अगर किसी व्यक्ति को सूजन आ रही है तो वह भी खत्म हो जाती है .

8. जैतून का तेल

जैतून का तेल सर्वाइकल के दर्द के लिए बहुत ही ज्यादा लाभकारी होता है इसलिए जैतून के तेल को हल्का गर्म करके दर्द वाली जगह पर हल्के हाथ से मालिश करें इससे दर्द बहुत ही जल्दी ठीक हो जाता है .

9. अजवाइन

सर्वाइकल के दर्द में अजवाइन का प्रयोग बहुत ही ज्यादा कारगर सिद्ध हुआ है . अजवाइन को लेकर इसे किसी कपड़े में रखकर इसकी एक पोटली सी बना लें और इसे हल्का गर्म करके अपनी दर्द वाली जगह पर इस से सिकाई करें .

10. सोंठ 

सर्वाइकल के दर्द से छुटकारा पाने के लिए सोंठ के चूर्ण में सरसों का तेल मिलाएं और इसके पेस्ट से अपने गर्दन की मालिश करें . ऐसा करने से दर्द को बहुत ही जल्दी ठीक किया जा सकता है .

11. सोंठ और अश्वगंधा

सोंठ और अश्वगंधा के चूर्ण आधा-आधा चम्मच लेकर एक गिलास दूध में मिलाकर पीने से सर्वाइकल के दर्द में बहुत ही ज्यादा आराम मिलता है साथ ही यह आपकी हड्डियों को मजबूती देने के लिए लिए भी बहुत ही ज्यादा लाभकारी होता है .

12. मेथी दाना

मेथी दाने को पानी में पीसकर इसका लेप बनाकर दिन में तीन बार अपनी दर्द वाली जगह पर इसके लेप करने से सर्वाइकल के दर्द में बहुत ही ज्यादा आराम मिलता है .

13. बर्फ

अगर आपकी गर्दन में किसी वजह से दर्द हो रहा है तो आप बर्फ लेकर अपने दर्द वाली जगह पर उसकी शिकायत कर सकते हैं इससे भी आपको दर्द में बहुत ज्यादा आराम मिलता है .

सर्वाइकल के दर्द को खत्म करने के लिए कुछ बेहतरीन योगासन

1. भुजंगासन

सर्वाइकल के दर्द को खत्म करने के लिए भुजंगासन एक बहुत ही ज्यादा अच्छा आसन है इसे अगर आप हर रोज 10 मिनट तक करते हैं तो आपको इस दर्द से बहुत ही जल्दी और आसानी से छुटकारा मिल जाएगा .

2. मत्स्येन्द्रासन

यह आसन भी इस दर्द को कम करने के लिए बहुत ही ज्यादा लाभदायक और उपयोगी होता है अगर आप इस आसन को भी हर रोज 5 मिनट भी करते हैं तो आपको सर्वाइकल के दर्द में बहुत याद आ रहा मिलता है .

3. धनुरासन

यह आसन भी आपको स्वस्थ बनाए रखने के लिए बहुत ही ज्यादा उपयोगी और लाभदायक होता है इसके अलावा यह सर्वाइकल के दर्द को भी खत्म करता है .

4. मार्जरी आसन

यह आसन भी आपके गर्दन के दर्द के लिए बहुत ही ज्यादा लाभदायक और कारगर होता है .

5. सेतुबंध आसन

यह आसन बहुत ही ज्यादा लाभकारी और कारगर होता है यह थायराइड की बीमारी को ठीक करने के लिए भी बहुत ही ज्यादा फायदेमंद होता है इसके अलावा यह सर्वाइकल के दर्द को भी ठीक करता है .

6. मत्स्यासन

मत्स्यासन भी सर्वाइकल के दर्द को खत्म करने के साथ-साथ थायराइड की बीमारी को ठीक करने के लिए बहुत ही ज्यादा लाभकारी और उपयोगी होता है इसके अलावा शरीर की कई बीमारियों को भी ठीक करता है .
ध्यान में रखने वाली बातें
दोस्तों इन आसन को करने से पहले आप अपने डॉक्टर या फिजियोथैरेपिस्ट से एक बार जरूर सलाह ले ले और तभी इन आसनों को निरंतर करते रहे तभी आप को आपकी सर्वाइकल के दर्द से छुटकारा मिल पाएगा .
Aslo Read:-
Previous
Next Post »